Home Navratri 6th Day of Navratri (मा कात्यायनी)

6th Day of Navratri (मा कात्यायनी)

नमस्कार मां के भक्त जनों. नवरात्रि के प्रथम 5 दिन की साधना पूजा के बाद छठी रात्रि (6th Day Of Navratri) पर हम मां कात्यायनी की पूजा करते है

 देवी कात्यायनी चतुर्भुजा है. मां के हाथ में चंद्रहास नामक तलवार है. चंद्रहास का अर्थ है चंद्रमा की मुस्कान.

देवी के दूसरे हाथ में कमल पुष्प है. अन्य हाथों में मां ने अभय मुद्रा और वरदान मुद्रा धारण कर रखा है. 

Godess Katyayani

6th Day of Navratri, Maa Katyayani Mantra And Puja

एक समय की बात है मुनि कात्या, जो कि मां शक्ति का भक्त था, कई वर्षों की तपस्या के बाद आदिशक्ति ने मुनि को वरदान दीया.

मुनि ने वरदान में देवी मां से अपनी पुत्री के रूप में जन्म लेने के लिए तथा महिषासुर को नष्ट करने के लिए सहायता मांगी. देवी मा ने मुनि की इच्छा को स्वीकारा और मोनी की पुत्री के रूप में जन्म लिया. इस प्रकार से देवी का नाम कात्यायनी हुआ.

पांचवें दिन की नवरात्रि अतः देवी स्कंदमाता की साधना, आराधना से भक्तों को सांसारिक जीवन में विजय प्राप्त होती है.  

परंतु  छठे दिन की नवरात्रि अतः मां कात्यायनी साधक को सांसारिक प्रगति से हटकर आध्यात्मिक प्रगति की ओर उन्नति करने की प्रेरणा देती है.

 माँ का ध्यान मंत्र है ॐ देवी कात्यायन्यै नमः ||  

Maa Katyayani Mantra

चन्द्रहासोज्ज्वलकरा शार्दूलवरवाहना ।
कात्यायनी शुभं दद्यात् देवी दानवघातिनी ॥

मंत्र का अर्थ

देवी जो असुरों का नाश करती है,  जिनकी भुजाए चंद्रहास तलवार से चमकती है, जो सिंह पर सवार है. ऐसी मां कात्यायनी हमें शुभ, लाभ प्रदान करें

Puja Significance

मां कात्यायनी को विशेष रुप से अविवाहित महिला ही पूजती है.

वह कन्याए जिनकी विवाह में विलंब हो रहा है और जो वर की तलाश में है. उन्हें विशेष रूप से मां कात्यायनी की वंदना करनी चाहिए. इस दिन की नवरात्रि में विशेष रूप से शहद का प्रयोग करना चाहिए, शहद के प्रसाद को ग्रहण करे तथा बाटे

देवी मां के पूजन से साधक को अत्यंत सुंदर स्वरूप मिलता है. 

योग के अनुसार, नवरात्र के छठे दिन साधक का प्राण शक्ती ‘आज्ञा चक्र’ में स्थित रहता है। योग साधना में आज्ञा चक्र का महत्वपूर्ण स्थान है। आज्ञाचक्र 7 चक्रों में सर्वाधिक शक्तिशाली है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Krishna Janmashtami

नमस्ते दोस्तों कैसे हे आप । krishna janmashtami की हार्दिक सुभकामनाये। आज में आपको बताऊंगा कृष्णा जन्मष्टमी से जुड़ी रोचक तथ्य।

Navratri साल में do baar kyu manayi jaati he

नमस्ते दोस्तों. कैसे हे आप सभी. नवरात्री बड़ा धूमधाम और श्रद्धा से मनाये जाने वाला त्यौहार हे. नवरात्री आते ही हम सभी...

9 Days of Navratri (Navdurga)

नमस्कार मित्रो। नवरात्री 9 दिन मनाए जाने वाला प्राचीन त्यौहार हे। नवरात्री की राते(9 days of Navratri) साधना और पूजा के लिए...

7th Day of Navratri (Kalratri)

नमस्कार मां के भक्त जनों. नवरात्रि की छठी रात्रि (7th Day of Navratri) पर हम देवी कालरात्रि की पूजा करते हैं. पिछली बीती...